Character cannot be developed in ease and quiet. Only through experience of trial and suffering can the soul be strengthened, ambition inspired and success achieved.
Helen Keller HindiQuotes
चरित्र जो है उसे आसानी से और गुपचुप तरीके से विकसित नहीं किया जा सकता। बार-बार की कोशिशों और तकलीफ़ों के अनुभवों से ही आत्मा शक्ति पाती है, आकांक्षाएं प्रेरणा लेती हैं और सफलता के द्वार खुलते हैं।  
~ हेलन केलर
“Charitra jo hai usey aasani se aur gupchup tareeke se viksit nahi kiya ja sakta. Baar baar ki koshishon aur takleefon ke anubhavon se hi aatma shakti paati hai, aakanshayein prerna leti hain aur safalta ke dwaar khulte hain”.
– Helen Keller